Mobile menu

कृति देव 010 फॉन्ट के संबंध में प्रकट हो रही समस्याएं
Thread poster: chopra_2002

chopra_2002  Identity Verified
India
Local time: 17:26
Member (2008)
English to Hindi
+ ...
Jan 23, 2008

प्रिय मित्रो,

आपमें से कई अपना हिन्दी अनुवाद कृति देव 010 फॉन्ट में टाइप करते होंगे। यह मेरे पसन्दीदा फॉन्टों में से था पर मैं इससे संबंधित ऐसी कई समस्याओं से जूझ रहा हूँ कि मुझे विवश होकर कृति देव 016 फॉन्ट का उपयोग करने के लिए बाध्य होना पड़ा है। वास्तव में, कई बार इसके कुछ अक्षर या तो गायब हो जाते हैं या अपने आप परिवर्तित हो जाते हैं। मुझे कृति देव 010 फॉन्ट में टाइप हुई जो हिन्दी फाइलें सम्पादन या प्रूफशोधन के लिए प्राप्त होती हैं, उनमें ये विसंगतियाँ पाई जाती हैं:


1. श अक्षर गायब हो जाता है और उसकी जगह खाली स्थान रह जाता है, उदाहरण के लिए - बंगलादे (श अक्षर की पाई रह जाती है, यूनीकोड में इसे अलग से टाइप कर पाना सम्भव नहीं है)

2. श अक्षर अपने आप भ में बदल जाता है, जैसे शुल्क अपने आप परिवर्तित होकर भुल्क बन जाता है।

3. ष अक्षर श में परिवर्तित हो जाता है, उदाहरण के लिए प्रेषक बदलकर प्रेशक बन जाता है।

इसके कारण बहुत-सा समय अनावश्यक रूप से इन्हें सुधारने में खर्च हो जाता है। मैं चाहकर भी इन कठिनाइयों का कारण और समाधान नहीं खोज पाया हूँ।

क्या आपको ज्ञात है कि ऐसा क्यों होता है और इससे कैसे बचा जा सकता है?


Direct link Reply with quote
 

Language Aide Pvt. Ltd. - Translation & Interpreting Agency
India
Local time: 17:26
English to Hindi
+ ...
Autocorrect option को untick करें. Jan 24, 2008

यह समस्या कृति देव फॉण्ट की वजह से नही बल्कि MS-Word में autocorrect option के on रहने के कारण होता है.

उदाहरण के लिए, जब आप MS-WORD में 'श्' के लिए जैसे ही " key को press करते हैं, यह अपने आप गायब हो जाता है. अथवा, जब कभी आप कोई अक्षर लिखते हैं, जैसे 'क' या 'ग' तो ये अपने आप 'क्' या 'ग्' में बदल जाता है, इत्यादी.

ऐसा इसलिए होता है क्योंकि MS-Word का autocorrect option, text को इसमे समाहित आदेश के अनुसार बदल देता है, जैसे- आप MS-Word में कुछ लिखने की शुरुआत करने के लिए जैसे ही पहला शब्द पुरा करते हैं, यह आपने आप उस पहले शब्द के पहले अक्षर को बड़ा कर देता है अंग्रेजी के व्याकरण के नियमानुसार.

इस समस्या से निपटने के लिए ज्यादा कुछ नही करना है. MS-WORD के TOOLS drop-down menu में autocorrect ओप्शन को क्लिक करें. ऐसा करने पर एक बॉक्स खुलेगा इस बॉक्स के अन्दर (खासकर autocorrect, autoformat, तथा autoformat as you type tags के अन्दर) उपस्थित सभी ऑप्शन्स को untick करें, और उसके बाद ok करके बॉक्स से बाहर आ जायें.

अब चेक कीजिये " key को press करते ही 'श्' आ जाएगा और वह गायब भी नही होगा और अन्य समस्यायें भी दूर हो जाएंगीं.

Language Aide


Direct link Reply with quote
 

chopra_2002  Identity Verified
India
Local time: 17:26
Member (2008)
English to Hindi
+ ...
TOPIC STARTER
आपके विस्तृत उत्तर के लिए धन्यवाद, पर... Jan 26, 2008

मैं इस समस्या का समाधान सुझाने के लिए आपके द्वारा दिए गए उत्तर के लिए आपको हार्दिक धन्यवाद देता हूँ क्योंकि हिन्दी के बीच में अंग्रेज़ी शब्दों के प्रयोग के कारण बहुत समय लगा होगा।

आपका अनुमान काफी हद तक सही है कि ऐसा ऑटोकरेक्शंस के कारण होता है। वास्तव में मैं जब अपना अनुवाद टाइप करना आरम्भ करता हूँ, तो ऑटोकरेक्शंस को अनटिक कर देता हूँ और मुझे उपरिवर्णित समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ता, लेकिन मुश्किल तब खड़ी हो जाती है जब किसी पुराने क्लाइंट से कृति देव 010 फॉन्ट में टाइप की गई ऐसी फाइल सम्पादन या प्रूफरीडिंग के लिए प्राप्त होती है, जिसमें उपर्युक्त दिक्कतें पहले से ही मौजूद होती हैं। ऐसे में ऑटोकरेक्शंस के अनटिक रहने के बावजूद भी समस्या बनी रहती है और मेरे पास प्रत्येक शब्द को ठीक करने के सिवाय कोई चारा नहीं होता। क्लाइंट अगर पुराना हो, तो उसे मना भी नहीं किया जा सकता।

एक बात और, यह समस्या कृति देव 016 फॉन्ट के संबंध में कभी देखने में नही आई।

क्या किसी अन्य व्यक्ति से ऐसी दोषयुक्त फाइल प्राप्त होने पर कुछ किया जा सकता है?


Direct link Reply with quote
 
आनंद  Identity Verified
Local time: 17:26
English to Hindi
ऐसी फ़ाइलों में सुधार करने के आसान सुझ Jan 28, 2008

यह समस्‍या अपने आप दुरूस्‍त हो जाए, इसका उपाय तो मेरी जानकारी में नहीं है, परंतु यदि ऐसी कोई MS Word की फ़ाइल मिलती है तो उसमें एकमुश्‍त सुधार करने के लिए Find, replace करना काफ़ी कारगर होता है। जिन तीन चार शब्‍दों में यह समस्‍या आती है, उन्‍हें अलग-अलग वांछित वर्णों से Find तथा Replace कर लें। ध्‍यान रहे कि इस दौरान Match cases पर टिक लगा होना चाहिए, क्‍योंकि इस फ़ॉन्‍ट में दोनों Cases के लिए पृथक वर्ण होते हैं।

और हाँ, समस्‍या कृति देव 010 में है और 016 में नहीं, इसका कारण समझ में नहीं आता। मेरे समझ से ऐसा नहीं होना चाहिए, यदि समस्‍या है तो सभी फ़ॉन्‍ट के लिए होगी। फिर भी, यदि आप दोनों फ़ॉन्‍ट ईमेल से भेज दें, तो अच्‍छा रहेगा।


Direct link Reply with quote
 

chopra_2002  Identity Verified
India
Local time: 17:26
Member (2008)
English to Hindi
+ ...
TOPIC STARTER
धन्यवाद, मैंने दोनों फॉन्ट आपको भेज... Jan 29, 2008

दिए हैं। आशा ही नहीं, अपितु विश्वास है कि आपको दोनों फॉन्टों की जाँच करके इस समस्या की तह तक पहुँचने में सफलता प्राप्त होगी।

dubsur wrote:

यह समस्‍या अपने आप दुरूस्‍त हो जाए, इसका उपाय तो मेरी जानकारी में नहीं है, परंतु यदि ऐसी कोई MS Word की फ़ाइल मिलती है तो उसमें एकमुश्‍त सुधार करने के लिए Find, replace करना काफ़ी कारगर होता है। जिन तीन चार शब्‍दों में यह समस्‍या आती है, उन्‍हें अलग-अलग वांछित वर्णों से Find तथा Replace कर लें। ध्‍यान रहे कि इस दौरान Match cases पर टिक लगा होना चाहिए, क्‍योंकि इस फ़ॉन्‍ट में दोनों Cases के लिए पृथक वर्ण होते हैं।

और हाँ, समस्‍या कृति देव 010 में है और 016 में नहीं, इसका कारण समझ में नहीं आता। मेरे समझ से ऐसा नहीं होना चाहिए, यदि समस्‍या है तो सभी फ़ॉन्‍ट के लिए होगी। फिर भी, यदि आप दोनों फ़ॉन्‍ट ईमेल से भेज दें, तो अच्‍छा रहेगा।


[Edited at 2008-01-29 13:46]

[Edited at 2008-01-29 15:59]


Direct link Reply with quote
 


There is no moderator assigned specifically to this forum.
To report site rules violations or get help, please contact site staff »


कृति देव 010 फॉन्ट के संबंध में प्रकट हो रही समस्याएं

Advanced search






CafeTran Espresso
You've never met a CAT tool this clever!

Translate faster & easier, using a sophisticated CAT tool built by a translator / developer. Accept jobs from clients who use SDL Trados, MemoQ, Wordfast & major CAT tools. Download and start using CafeTran Espresso -- for free

More info »
Anycount & Translation Office 3000
Translation Office 3000

Translation Office 3000 is an advanced accounting tool for freelance translators and small agencies. TO3000 easily and seamlessly integrates with the business life of professional freelance translators.

More info »



All of ProZ.com
  • All of ProZ.com
  • Term search
  • Jobs