दोस्तो or दोस्तों while addressing a crowd.

Hindi translation: दोस्तो / मित्रो / भाइयो / बहनो

17:33 Feb 7, 2018
English to Hindi translations [PRO]
Advertising / Public Relations / दोस्तो or दोस्तों while addressing a crowd.
English term or phrase: दोस्तो or दोस्तों while addressing a crowd.
When we address a group or crowd directly, we say,: "दोस्तो" not "दोस्तों" or " मित्रो" not "मित्रों". We don't use dot(.) or बिंदी. Could anyone give a proof of this in the grammar?
janakk
Local time: 01:46
Hindi translation:दोस्तो / मित्रो / भाइयो / बहनो
Explanation:
".... भाइयों!, बहनों!, बच्चों!, साथियों! जैसे प्रयोग धड़ाधड़ हो रहे हैं, मीडिया में भी और आम जन में भी। लेकिन ये प्रयोग अशुद्ध हैं। हिंदी का कोई व्याकरण इन्हें सही नहीं मान सकता। मूल एकवचन शब्द के साथ ‘ओं’ जोड़ कर बहुवचन बनता तो है, पर संबोधन में नहीं बनता। यों समझ लें कि ‘ओं’ को जब पद बनाने के लिए मूल शब्द से जोड़ते हैं तो उसे तुरंत एक साथी की भी आवश्यकता होती है, जैसे: बहनों ने, भाइयों को, बहुओं के लिए, देवताओं से…। संबोधन में यह साथ देने वाला नहीं होता। हो ही नहीं सकता। इसलिए संबोधन में सीधा बहुवचन रूप है भाइयो, बहनो, गुरुजनो, सभासदो आदि!"
(https://www.jansatta.com/sunday-magazine/hindi-grammar-bindi...


--------------------------------------------------
Note added at 27 mins (2018-02-07 18:01:19 GMT)
--------------------------------------------------

शंका निवारण हेतु यह लिंक भी देख सकते हैं

http://kaulonline.com/chittha/2015/02/sambodhan-me-anuswar/


बाकी तो, संबोधन में अनुस्वार का प्रयोग अब खूब प्रचलन में है। और हिंदी में, चलती का नाम गाड़ी है।
Selected response from:

Lalit Sati
India
Local time: 01:46
Grading comment
Selected automatically based on peer agreement.
4 KudoZ points were awarded for this answer



Summary of answers provided
4 +8दोस्तो / मित्रो / भाइयो / बहनो
Lalit Sati
5दोस्तो
veenajaisingh


  

Answers


11 mins   confidence: Answerer confidence 4/5Answerer confidence 4/5 peer agreement (net): +8
दोस्तो / मित्रो / भाइयो / बहनो


Explanation:
".... भाइयों!, बहनों!, बच्चों!, साथियों! जैसे प्रयोग धड़ाधड़ हो रहे हैं, मीडिया में भी और आम जन में भी। लेकिन ये प्रयोग अशुद्ध हैं। हिंदी का कोई व्याकरण इन्हें सही नहीं मान सकता। मूल एकवचन शब्द के साथ ‘ओं’ जोड़ कर बहुवचन बनता तो है, पर संबोधन में नहीं बनता। यों समझ लें कि ‘ओं’ को जब पद बनाने के लिए मूल शब्द से जोड़ते हैं तो उसे तुरंत एक साथी की भी आवश्यकता होती है, जैसे: बहनों ने, भाइयों को, बहुओं के लिए, देवताओं से…। संबोधन में यह साथ देने वाला नहीं होता। हो ही नहीं सकता। इसलिए संबोधन में सीधा बहुवचन रूप है भाइयो, बहनो, गुरुजनो, सभासदो आदि!"
(https://www.jansatta.com/sunday-magazine/hindi-grammar-bindi...


--------------------------------------------------
Note added at 27 mins (2018-02-07 18:01:19 GMT)
--------------------------------------------------

शंका निवारण हेतु यह लिंक भी देख सकते हैं

http://kaulonline.com/chittha/2015/02/sambodhan-me-anuswar/


बाकी तो, संबोधन में अनुस्वार का प्रयोग अब खूब प्रचलन में है। और हिंदी में, चलती का नाम गाड़ी है।

Lalit Sati
India
Local time: 01:46
Works in field
Native speaker of: Native in HindiHindi
PRO pts in category: 12
Grading comment
Selected automatically based on peer agreement.
Notes to answerer
Asker: शुक्रिया मित्र, मुझे व्याकरण की एक पुस्तक में भी इसका एक संदर्भ मिल गया। आज परेशानी ये है कि लोग गूगल को ही प्रमाणिकता का पैमाना मानने लगे हैं।

Asker: मित्रो, इसमें आपने जो रुचि देखाई है उसके लिये आप सभी मित्रों को बहुत-बहुत धन्यवाद.


Peer comments on this answer (and responses from the answerer)
agree  Kapil Swami
18 mins
  -> धन्यवाद

agree  veenajaisingh
1 hr
  -> धन्यवाद

agree  Shekhar Banerjee: आदरणीय मित्र, आपके लिंकों से तो यही पता चला कि संबोधन में 'मित्रो' ही सही है. परन्तु उनमें से दो अलग अलग व्याकरणों में 'शाबाश' को विष्मयादिबोधक और संबोधन कारक के रूप में दिखाया गया है. अतः उनकी विश्वसनीयता संदिग्ध है. गूगल ट्रांसलेट में 'मित्रों' ही है.
4 hrs
  -> धन्यवाद। संबोधन में अनुस्वार के प्रयोग को लेकर दो मत हो सकते हैं, लेकिन गूगल अनुवाद कोई मानक नहीं। वैयाकरणों का मत मायने रखता है।

agree  Parvathi
9 hrs
  -> धन्यवाद

agree  Nitin Goyal
9 hrs
  -> धन्यवाद

agree  Ashutosh Mitra: सहमत, ललित जी...
9 hrs
  -> धन्यवाद

agree  nkaur
8 days

agree  Shruti Nagar: यह भी देखें https://hi.wikibooks.org/wiki/हिन्दी_व्याकरण_(कामताप्रसा
20 days
Login to enter a peer comment (or grade)

1 hr   confidence: Answerer confidence 5/5
दोस्तो


Explanation:
For addressing crowd दोस्तो is appropriate.

Example sentence(s):
  • मित्रो/दोस्तो आज हम यहाँ बहुत ही गंभीर समस्या के समाधान हेतु एकत्रित हुए हैं।
veenajaisingh
India
Specializes in field
Native speaker of: Native in HindiHindi
Login to enter a peer comment (or grade)



Login or register (free and only takes a few minutes) to participate in this question.

You will also have access to many other tools and opportunities designed for those who have language-related jobs (or are passionate about them). Participation is free and the site has a strict confidentiality policy.

KudoZ™ translation help

The KudoZ network provides a framework for translators and others to assist each other with translations or explanations of terms and short phrases.


See also:

Your current localization setting

English

Select a language

Term search
  • All of ProZ.com
  • Term search
  • Jobs
  • Forums
  • Multiple search